Hindustan Saga Hindi
एजुकेशन

टीमलीज स्किल्स यूनिवर्सिटी (टीएलएसयू)ने स्कूली शिक्षकों और करियर काउंसलर के लिए कार्यशाला आयोजित की

TeamLease Skills University (TLSU) conducts a workshop for school teachers and career counsellors to help students make the right career choice

कैरियर परामर्श और मार्गदर्शन में छात्र की योग्यता और झुकाव पर विचार करना चाहिए और उन्हें रोजगार योग्य बनाने पर ध्यान देना चाहिए : टीएलएसयू, प्रोवोस्ट, डॉ.अवनि उमट

वडोदरा (गुजरात): आज के समय में करियर के विकल्प की भरमार ने छात्रों के लिए सही करियर चुनना मुश्किल बना दिया है। करियर मार्गदर्शन में शिक्षकों की महत्वपूर्ण भूमिका को महसूस करते हुए टीमलीज स्किल्स यूनिवर्सिटी (टीएलएसयू) ने वडोदरा जिले के विभिन्न स्कूलों के

शिक्षकों और करियर काउंसलर के लिए एक दिवसीय कार्यशाला का आयोजन किया।

करियर मार्गदर्शन कार्यशाला में प्रोवोस्ट (डॉ.) टीमलीज स्किल्स यूनिवर्सिटी (टीएलएसयू) अवनी उमट ने छात्रों को सही समय पर सही करियर चुनने में मदद करने के लिए कौशल आधारित उच्च शिक्षा परामर्श की आवश्यकता पर बल देते हुए कहा कि इससे उन्हें सफलता के लिए एक रोडमैप बनाने में मदद मिलेगी। उन्होंने कहा “हमारे लिए शिक्षकों के रूप में यह अक्सर समय के खिलाफ एक दौड़ होती है क्योंकि हम छात्रों को नौकरियों के लिए तैयार करने या उन्हें उद्यमशीलता के रास्ते पर स्थापित करने के लिए कौशल पर ध्यान केंद्रित करते हैं।

कार्यशाला में टीएलएसयू द्वारा प्रस्तुत अद्वितीय और कौशल आधारित विभिन्न कार्यक्रमों के बारे में भी बताया गया। डॉ उमट ने एंड्रागोजी के सिद्धांतों के आधार पर टीएलएसयू के निर्देशात्मक कार्यक्रमों के डिजाइन पर भी प्रकाश डाला और विस्तार से बताया कि कैसे विश्वविद्यालय “पुटिंग इंडिया टू वर्क ” के नारे पर खरा उतरने के लिए अपने पाठ्यक्रम में एंड्रागॉजी के सिद्धांतों को शामिल करता है।

टीएलएसयू रजिस्ट्रार, प्रो. (डॉ.) एच.सी. त्रिवेदी ने कहा कि स्कूलों में करियर कॉर्नर स्थापित करने और शिक्षकों को सलाहकारों की भूमिका सौंपने से छात्रों को उनकी योग्यता और झुकाव के अनुरूप करियर चुनने में मदद मिलेगी।

टीएलएसयू के जीवन कौशल विभाग ने ‘ट्रेन द ट्रेनर’ पहल के हिस्से के रूप में किशोरों के लिए करियर परामर्श पर एक सत्र का भी आयोजन किया। यह सत्र युवाओं को करियर के चुनाव में परामर्श देने की आवश्यकता और चुनौतियों पर केंद्रित था।

कॉमर्स और मैनेजमेंट, हेल्थ लाइफ एन्ड एप्लाइड साइंस, हॉस्पिटालिटी एन्ड टूरिज्म, सूचना प्रौद्योगिकी और मेक्ट्रोनिक्स विभागों के प्रमुखों ने भी भाग लेने वाले शिक्षकों के साथ बातचीत की।

अधिक जानकारी के लिए विजिट करे: https://ahmedabad.globalindianschool.org/

यह भी देखें...

सूरत की रोबोटिक्स टीम लैब फ्यूजन ने पहला टेक चैलेंज जीता

Hindustan Saga Hindi

आईएसजीजे – इंटरनेशनल स्कूल ऑफ जेम्स एंड ज्वेलरी कॉलेजमें जेम एन्ड  जेमोलॉजी स्नातकों का स्नातक समारोह आयोजित

Hindustan Saga Hindi

जीआईआईएस अहमदाबाद के सफल IDEATE 2.0 कार्यक्रम में अभिनव  और रचनात्मकता ने लोगों को प्रेरित किया

Hindustan Saga Hindi

Leave a Comment